Sale!

संगदिल प्रेमी

75.00 30.00

in stock

कईबार हम रोजबरोजके जीवनमे मिलनेवाली छोटी छोटी खुशियों पर ध्यान नहीं देते. हम बड़ी खुशिया पाना चाहते है. और कभी कभी हम इन बड़ी खुशियोंकोभी अपनी जिद्द या अपने अंहकार के कारण गवा देते है. इस कहानी के दो मुख्य किरदारभी अपनी जिद्द के कारण अपने प्यार से दूर हो जाते है. इन दोनोंमें पहले अनबन और लड़ाई झगड़े होते रहते है. पर धीरे धीरे वो एक दुसरे से प्यार करने लगते है. पर उनकी अनबनही उनके प्यार की दुश्मन बन जाती है इसी अनबन की बजह से वो जिसे चाहते है. जिससे प्यार करते है. उसीको अपना दुश्मन समझने लगते है. फिर क्या होता है जानने के लिए पढ़े. कहानी “संगदिल प्रेमी”



SKU: 0000229 Category: Tags: |

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “संगदिल प्रेमी”